अंपायर के आउट देने के बाद भी क्रीज पर खड़े रहे युसुफ पठान

खेल

बड़ौदा,मुंबई ने रणजी ट्रोफी 2019-2020 के पहले मैच में बड़ौदा को 309 रनों के अंतर से हराकर अपने अभियान की शुरुआत की। राउंड 1 के अपने पहले मैच के आखिरी दिन गुरुवार को उसने आसान जीत दर्ज की। बड़ौदा के सामने जीत के लिए 534 रनों का विशाल लक्ष्य था लेकिन पूरी टीम 224 रनों पर आउट हो गई। इस मैच में ऐसा भी कुछ हुआ जिसे देखकर क्रिकेट प्रेमी थोड़ा हैरान रह गए। बड़ौदा के बल्लेबाज युसुफ पठान ने अंपायर के आउट देने के बाद भी मैदान से बाहर जाने से इनकार कर दिया। पारी के 48वें ओवर में शशांक अतारदे की गेंद पर युसुफ को फॉरवर्ड शॉट लेग पर जय गोकुल बिस्ता ने बैड-पैड कैच किया।

अंपायर ने थोड़ा टाइम लिया और फिर पठान को आउट करार दिया। हालांकि 37 वर्षीय बल्लेबाज ने बाहर नहीं गए और करीब एक मिनट तक मैदान पर ही रहे। वह अंपायर के फैसले से काफी निराश थे और उन्होंने निराशा भी जाहिर की थी। इसके बाद मुंबई के वरिष्ठ खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे ने पठान को बाहर जाने के लिए राजी किया। हालांकि पविलियन जाते हुए भी वह निराशा में सिर हिलाते हुए जा रहे थे। इस जीत के बाद मुंबई को पूरे छह अंक मिले हैं। वहीं बड़ौदा की टीम का खाता नहीं खुला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *