समझाइश के बावजूद लापरवाही, सूरजपुर में बैंकों के सामने लग रही भीड़

रायपुर

सूरजपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सूरजपुर (Surajpur) जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के बैंकों में लॉकडाउन (Lock down) के नियमों का पालन में लापरवाही सामने आ रही है. दरअसल, बैंकों के बाहर ग्रामीणों की रोजाना भीड़ लग रही है. इस वजह से ग्रामीणों के खाते में लॉकडाउन के दौरान आने वाले गरीब कल्याण सहायता राशि और उज्जवला योजना के तहत गैस रिफिलिंग के मिलने वाले पैसों के लिए ग्रामीण बैंकों के सामने लाइन लगा रहे हैं. सोशल डिस्टेंसिंग की समझाइश के बावजूद लोगों की भीड़ बैंकों के सामने लग रही है.

पैसे निकालने पहुंच रहे ग्रामीण

जानकारी के मुताबिक जिले के ग्रामीण इलाकों में फैली अफवाह के कारण ही ग्रामीण बैंकों में अपने आए हुए रकम को निकालने के लिए पहुंच रहे हैं. दरअसल, शासन की ओर से लॉकडाउन के दौरान जनधन खाते में 500 रुपए गरीब कल्याण सहायत राशि और उज्जवला योजना के हित्ग्राहियों के गैस रिफिलिंग के लिए पैसे आए हुए है. लेकिन ग्रामीणों में अफवाह है कि यदी पैसे को लॉकडाउन के दौरान नहीं निकाला गया तो पैसे वापस शासन द्वारा ले लिया जाएगा. इस वजह से जिन हितग्राहियों को जरूरत नहीं है वे भी बैंकों में अपने रकम निकालने के लिए पहुंच रहे हैं

बैंक प्रबंधन परेशान

भैयाथान ब्लॉक के छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैक चन्द्रमेढा में भी ग्रामीण उपभोक्ताओं की भीड़ लग रही है. ऐसे में बैंक प्रबंधन ने तो सोशल डिस्टेंसिंग के लिए पुरी व्यवस्था कर रखा है. लेकिन भीड़ को देखते हुए बैंक प्रबंधक भी परेशान है. बैंक प्रबंधक छोटेलाल राम का कहना है कि जो भी पैसे ग्रामीणों के सहायता के लिए आ रहे है वो वापस नहीं होंगे. ऐसे में ग्रामीणों को समझाइश भी दिया जा रहा है. साथ ही अपील भी किया जा रहा है अफवाहों से दूर रहकर लॉकडाउन के नियमों का पालन करें.

सोशल डिस्टेंसिंग की समझाइश

अपर कलेक्टर एसएन मोटवानी का कहना है कि बैंकों में लगने वाली भीड़ के लिए लगातार निरीक्षण किया जा रहा है. सोशल डिस्टेंसिंग के लिए ग्रामीण और बैंक प्रबंधक को भी समझाइस दी जा रही है. जहां तक ग्रामीण क्षेत्रों में फैली अफवाह की बात है तो ग्रामीणों को जागरूक किया जाएगा और अफवाह फैलाने वाले लोगों के खिलाफ शिकायत होगी तो कार्रवाई भी की जाएगी.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *