3 मंजिला मकान ढहा, 30 मिनट दबे रहे डॉक्टर:ग्वालियर में पड़ोसी के बेसमेंट की खुदाई से कमजोर पड़ी नींव;

ग्वालियर मध्य-प्रदेश

ग्वालियर में पड़ोसी के मकान के बेसमेंट की खुदाई से डॉक्टर का तीन मंजिला मकान ढह गया। घटना के समय डॉक्टर का परिवार बाहर था, लेकिन डॉक्टर मलबे में दब गए। फायर ब्रिगेड की टीम ने 30 मिनट में डॉक्टर को रेस्क्यू कर अस्पताल में भर्ती कराया। घटना सोमवार रात 2 बजे की है। मकान गिरने का CCTV फुटेज सामने आया है।

शहर के दाल बाजार इलाके की गीता कॉलोनी में अशोक गुप्ता का तीन मंजिला मकान बना हुआ था। इस मकान में उनके बेटे डॉक्टर आलोक गुप्ता अपने परिवार के साथ रहते हैं। अशोक गुप्ता की 3 मंजिला इमारत के पड़ोस में एक-दूसरे मकान का निर्माण चल रहा है। पड़ोसी बेसमेंट बनवा रहा था। इसके लिए गड्‌ढा खोदा जा रहा था। नींव कमजोर पड़ने से देर रात मकान ढह गया और डॉ. आलोक 3 मंजिला इमारत के मलबे में दब गए।

मकान गिरने की आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के लोग बाहर निकल आए। डॉक्टर की आवाज सुनी तो पुलिस और दमकल कर्मियों को सूचना दी। डॉक्टर को इलाज के लिए जयारोग्य अस्पताल भेजा गया। घटना के वक्त डॉक्टर का परिवार बाहर घूमने गया हुआ था और उनके पिता अशोक किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे।

पड़ोसी की लापरवाही से गिरी इमारत

डॉक्टर के मकान के पास ही पड़ोसी अपने पुराने मकान को तुड़वाकर नया कंस्ट्रक्शन करा रहा है। लापरवाही से काम शुरू किया गया। डॉक्टर के मकान की नींव कमजोर हो रही थी, इसका भी ध्यान नहीं रखा। इस कारण यह हादसा हो गया। अब अफसर मामले की जांच करेंगे कि मकान की परमिशन थी भी या नहीं। माधौगंज थाना प्रभारी महेश शर्मा का कहना है कि हादसा कैसे हुआ? इसकी संबंधित विभाग से जांच करा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *